कोल्ड ड्रिंक पीने के नुक्सान

कोल्ड ड्रिंक पीने के नुक्सान:

soft drink

कोल्ड ड्रिंक या सॉफ्ट ड्रिंक पीने का प्रचलन तेजी से बढ़ता जा रहा है। किसी की जन्मदिन पार्टी हो, कोई समारोह हो या कोई अन्य पारिवारिक कार्यक्रम हो, ऐसा लगता है कि कोल्ड ड्रिंक के बिना पूरे हो ही नहीं सकते। इसकी लोकप्रियता इतनी तेजी से बढ़ रही है कि कोल्ड्रिंग या सोडा बनाने वाली कंपनियां रातों रात मालामाल हो जाती हैं। यूं तो कोल्ड ड्रिंक पीने में बहुत आनंद आता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसमें मौजूद शुगर हमारे स्वास्थ्य पर बहुत विनाशकारी प्रभाव डालती है। आज हम आपको बताएंगे कि कोल्डड्रिंक पीने से आपके स्वास्थ्य पर क्या क्या हानिकारक प्रभाव पड़ते है।

कोल्ड ड्रिंक पीने से होने वाले नुकसान:-

– कोल्ड ड्रिंक पीने का सबसे बड़ा नुकसान किडनी को होता है। यह किडनी के काम करने की क्षमता को कम कर देते हैं। इसके लगातार सेवन से किडनी से संबंधित समस्याएं होने का जोखिम दोगुना हो जाता है।

– कोल्ड ड्रिंक में मौजूद सोडा दातों के स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारक होता है। यह मुंह में हानिकारक जीवाणुओं का निर्माण करता है। जो धीरे-धीरे दांतो को नुकसान पहुंचाने लगते हैं। जिनके कारण आगे चलकर दांतों में घाव व दर्द रहने लगती है।

drink

– कोल्ड्रिंग के अधिक सेवन से हड्डियों में लौ बोन डेंसिटी का खतरा बढ़ जाता है। जिसके कारण हड्डियां कमजोर होने लगती हैं और छोटी सी छोटी चोट लगने पर भी हड्डी टूटने का खतरा बना रहता है। यह शरीर के खनिज स्तर को भी घटाता है।

– कोल्ड ड्रिंक पीने वाले मोटापे का जल्दी शिकार हो जाते हैं। दरअसल यह मोटापा बढ़ाने का सबसे बड़ा कारण है। इसमें मौजूद शुगर शरीर में जाकर वसा में बदल जाता है। जो शरीर के वजन और मोटापे को तेजी से बढ़ाता है। यह हाई ब्लड शुगर के लिए भी जिम्मेदार है।

– अधिक चीनी का सेवन यादाश्त को कम करने का जोखिम बढ़ाता है। कोल्ड ड्रिंक में बहुत अधिक मात्रा में चीनी पाई जाती है। जिसका सीधा सीधा असर आपकी याददाश्त पर पड़ता है। चीनी से ब्लड शुगर का स्तर बहुत तेजी से बढ़ता है। जिसका असर दिमागी संतुलन पर पड़ता है।

– कोल्ड ड्रिंक में कृत्रिम शुगर पाई जाती है। यह शुगर खतरनाक बीमारियां जैसे कैंसर, हृदय रोग, मेटाबोलिज्म सिंड्रोम आदि को बढ़ावा देती है।

drink 3

– शोध से पता चलता है कि कोल्ड्रिंग का असर सीधा सीधा मेटाबॉलिज्म पर पड़ता है। शरीर के मेटाबॉलिज्म में खराबी आने के कारण शरीर में वसा और वजन को कम करना बहुत मुश्किल हो जाता है।

-अधिक कोल्डड्रिंक पीने से शरीर में डिहाइड्रेशन की संभावना बढ़ जाती है। कोल्ड ड्रिंक में मौजूद कैफीन मूत्रवर्धक होता है। जिसकी वजह से बार-बार पेशाब जाना पड़ता है और शरीर से पोषक तत्व तेजी से बाहर निकल जाते हैं।

admin Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *