खाली पेट तुलसी के पत्ते खाने के फायदे

खाली पेट तुलसी के पत्ते खाने के फायदे:tulsi

धार्मिक रूप से भारतीय संस्कृति में तुलसी का विशेष महत्व है। इसी के साथ साथ तुलसी में बहुत से औषधीय गुण भरे है। तुलसी में इतने रोगों को दूर करने की क्षमता है कि यह किसी प्रकार की संजीवनी बूटी से कम नहीं है। इसके नियमित रूप से प्रयोग करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता तो बढ़ती है ही यह कई प्रकार की जानलेवा बीमारियों को भी जड़ से खत्म कर देती है। चलिए जानते हैं तुलसी से होने वाले फायदों के बारे में।

तुलसी के पत्ते खाने के फायदे

– लसी का पत्ता तनाव को दूर करने में बहुत लाभकारी होता है। इसमें मौजूद कोर्टिसोल नामक हार्मोन तनाव से मुक्ति दिलाता है। तनाव के समय में तुलसी के पत्ते खाने से विशेष लाभ मिलता है।health benefits of basil-tulsi

– गले से संबंधित किसी भी तरह की परेशानी को दूर करने के लिए तुलसी का पत्ता बहुत फायदेमंद होता है। कुछ तुलसी के पत्ते लें और उन्हें पानी में उबाल ले। इसका सेवन करने से आपको गले से संबंधित किसी भी तरह की परेशानी से आराम मिल जाएगा।

– सांस की बदबू को दूर करने के लिए भी तुलसी का पत्ता बहुत कारगर होता है। यदि आपको मुंह से बदबू आने की परेशानी है तो ऐसे में प्रतिदिन दो से तीन तुलसी के पत्ते चबाने से सांस की बदबू से छुटकारा मिल जाता है।

– यदि आप ब्लड शुगर जैसी बीमारी से ग्रस्त हैं तो ऐसे में तुलसी का पत्ता बहुत फायदेमंद रहता है। तुलसी में बहुत से ऐसे तत्व पाए जाते हैं जिसकी वजह से शरीर में इंसुलिन की मात्रा बनी रहती है और यह ब्लड शुगर के लेवल को नॉर्मल रखता है।

– यदि आपको सर्दी, खांसी, सिरदर्द, किसी प्रकार की एलर्जी या साइनेसिस की समस्या रहती है तो ऐसे में तुलसी के पत्तों को उबाल के इन्हें छान लें। और थोड़े थोड़े समय बाद इसका सेवन करें। आपको इन सभी रोगों से मुक्ति मिल जाएगी।

basil

– तुलसी के पत्तों में लगभग हर तरह के बुखार को खत्म करने की क्षमता होती है। थोड़ी सी काली मिर्च और कुछ तुलसी के पत्ते मिलाकर कड़ा तैयार कर लें। इसका सेवन करने से हर तरह का बुखार दूर हो जाता है।

– तुलसी के पत्तों का रस आंखों संबंधित भी बहुत सी बीमारियों को दूर कर देता है। इसके पत्तों के रस की दो दो बूंदें आंखों में डालने से रतौंधी, आंखों का पीलापन और लाली की समस्या दूर हो जाती है।

– तुलसी में एंटी-कार्सिनोजेनिक और एंटी-ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं। जोकि शरीर में कैंसर होने की संभावना को दूर करते हैं।

– तुलसी के पत्तों के रस में थोड़ा सा शहद मिलाकर नियमित रूप से पीने से पथरी की समस्या दूर हो जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!