बारिश के मौसम में स्वस्थ रहने के लिए जरूर करे इन् बातो का ख्याल

बारिश के मौसम में स्वस्थ रहने के लिए जरूर करे इन् बातो का ख्याल:rain

बारिश का मौसम हर किसी को प्यारा लगता है | गरम दिनों के बाद बारिश हमे राहत और प्रसन्ता देती है | लेकिन इस मौसम में infection होने का डर भी बना रहता है | बारिश का मौसम डेंगू, मलेरिआ, पीलिया, दस्त, हैज़ा, बुखार, खांसी, और फ्लू  जैसी बीमारियां साथ में लाता है |

हमे इस मौसम में कुछ सावधानिया बरतनी चाहिए जिससे इन् बिमारियों से बचा जा सके |

 

पानी: इस मौसम में पानी के कारण सबसे ज्यादा लोग बीमार पड़ते है | अगर आप नल का पानी पीते है तो पानी को 15-20 मिनट तक उबाले और ठंडा होने पर पीने के लिए इस्तेमाल करे | अगर आप घर से बाहार जा रहे हो तो अपना पानी साथ लेकर चले या फिर किसी अचछी कंपनी का बोतल बंद पानी पीये |

आहार: इन् दिनों हमारी पाचन शक्ति भी कमजोर हो जाती है | बारिश के मौसम में लोग ज्यादातर तला हुआ खाना पसंद करते है लेकिन भूल कर भी बहार का खाना न खाये | घर का बना हुआ हल्का-फुल्का भोजन ही करे | ऐसा करने से आप बहुत सी बिमारियों से खुद को बचा सकते हो |

साफ़-सफाई: घर की साफ़-सफाई से ज्यादा जरूरी है अपने आस-पास की सफाई | अपने आस पास पानी इकठा न होने दे | जमा पानी में मच्छर पैदा होते है जो डेंगू,मलेरिया जैसे भयानक रोगो को जनम देते है|

अगर आप बारिश में भीगते है तो साथ ही साफ़ पानी से जरूर नहाये अपने बालो को गीला न बांधे और गीला कपडा और जुराब न पहन कर रखे | ये सब सावधानियां बरतने से आप खुद को बिमारियों से बचा सकते है |

मदुमेह के रोगी: मदुमेह के मरीजों को अपने पैरो को ज्यादा समय तक बारिश के पानी में नहीं रखना चाहिए इससे फंगल infection होने का डर बना रहता है |

अन्य सावधानियां: 

  • सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग जरूर करे|
  • बच्चो को समय समय पर टाइफाइड, फ्लू, और पीलिया का वैक्सीन लगवाना चाहिए |
  • सड़क परे जमा हुए गंदे पानी में पैर न रखे|
  • बारिश के मौसम में तले हुए खाने की चाह सभी को होती है इन् सब चीज़ो को अवॉयड करे |
  • इस मौसम में कोल्ड ड्रिंक पीने की जगह चाय, कॉफ़ी, सूप या हर्बल टि का ही इस्तेमाल करे |
  • हमेशा ताज़ा और गरम आहार ही खाये |
  • किसी भी रोग की आशंका होने पर तुरंत doctor से संपर्क करे |

admin Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *